tareef shayari in Hindi | तारीफ शायरी हिंदी

 

 tareef shayari in Hindi | तारीफ शायरी हिंदी

तेरा चेहरा कितना सुहाना लगता है
तेरे आगे चाँद पुराना लगता है -कैफ़ भोपाली

Tera Chehra Kitna Suhaana Lagta Hai
Tere Aage Chand Kitna Puraana Lagta Hai – Kaif Bhopali
____________________________________________
2 Line tareef Shayari in Urdu

आज उसकी मासूमियत के कायल हो गए,
सिर्फ उसकी एक नजर से ही घायल हो गए

Aaj Uski Massomiyat Ke Kayal Ho Gaye
Sirf Uski Ek Nazar Se Hi Ghayal Ho Gaye
____________________________________________

बिल्कुल चांद की तरह है
नूर भी, गुरुर भी, दूर भी

Bilkul Chand Kee Taraf Hai
Noor Bhi, Gurur Bhi, Door Bhi
____________________________________________
Khubsurti ki Tareef Shayari in Hindi

तुम्हारा हुस्न आराइश तुम्हारी सादगी ज़ेवर
तुम्हें कोई ज़रूरत ही नहीं बनने सँवरने की -असर लखनवी

Tumhara Husn Araaish Tumhari Saadhi Jevar
Tumhe Koi Jarurat Hi Nahi Banane Savarne Ki – Asar Lakhnawi
____________________________________________

पलकों को जब-जब आपने झुकाया है,
बस एक ही ख्याल दिल में आया है,
कि जिस खुदा ने तुम्हें बनाया है,
तुम्हें धरती पर भेजकर वो कैसे जी पाया है…
____________________________________________

Mohabbat ki tareef Shayari

इस प्यार का अंदाज़ कुछ ऐसा है,
क्या बताये ये राज़ कैसा है,
कौन कहता है कि आप चाँद जैसे हो,
सच तो ये है कि खुद चाँद आप जैसा है…
____________________________________________

तू जरा सी कम खूबसूरत होती
तो भी बहुत खूबसूरत होती 

Tu Jara Se Kam Khobasorat Hoti
Tu Bhi Bahut Khobasorat Hoti
____________________________________________
Tareef Shayari in Two lines

तुझे पलकों पे बिठाने को जी चाहता है
तेरी बाहों से लिपटने को जी चाहता है,
खूबसूरती की इंतेहा हैं तू,
तुझे ज़िन्दगी में बसाने को जी चाहता है…
____________________________________________

कितना खूबसूरत चेहरा है तुम्हारा,
ये दिल तो बस दीवाना है तुम्हारा,
लोग कहते है चाँद का टुकड़ा तुम्हें,
पर मैं कहता हूँ चाँद भी टुकड़ा है तुम्हारा…
____________________________________________
Tareef Shayari For Beautiful Girl

गिरता जाता है चहरे से नकाब अहिस्ता-अहिस्ता,
निकलता आ रहा है आफ़ताब अहिस्ता-अहिस्ता
 
Girta Jaata Hai Chehre Se Naqaab Aahista – Aahista
Nikalta Aa Raha Hai Aaftaab Aahista-Aahista
____________________________________________

दुनिया में तेरा हुस्न मेरी जां सलामत रहे,
सदियों तलक जमीं पे तेरी कयामत रहे

Duniya Mein Tera Husn 
Meree Jaan Salamat Rahe,
Sadiyon Talak Jameen Pe 
Tere Kayamat Rahe
____________________________________________

tareef शायरी

उफ्फ ये नज़ाकत ये शोखियाँ ये तकल्लुफ़,
कहीं तू उर्दू का कोई हसीन लफ्ज़ तो नहीं

Uff Ye Najakat Ye Sokhiyaan Ye Takalluf
Kahin Tu Urdu Ka Koi Haseen Lafz Toh nahi
____________________________________________

निगाह उठे तो सुबह हो… झुके तो शाम हो जाये,
एक बार मुस्कुरा भर दो तो कत्ले-आम हो जाये

Nigaah Uthe Toh Subah HO…Jhuke Toh Shaam Ho Jaaye
Ek Baar Muskura Bhar Do Toh Katl-e-Aam Ho Jaaye
____________________________________________
tareef शायरी इन हिंदी

वो तारीफें करते रहते है ,हम शायरी करते रहते है.
वो कुछ कहते नही ओर हम इंतज़ार करते रहते है.

Vo Tarife Karate Rahate Hai ,
Ham Shayari Karate Rahate Hai.
Vo Kuchh Kahate Nahi Or Ham 
 Intazaar Karate Rahate Hai.
____________________________________________

ये आईने ना दे सकेंगे तुझे तेरे हुस्न की खबर,
कभी मेरी आँखों से आकर पूछो के कितनी हसीन हों तुम

Ye Aaine Na De Sakenge Tujhe Tere Husn Ki Khabar
Kabhi Meri Aankho Se Akar Poocho Ke Kitni Haseen Ho Tum
____________________________________________

रोमांटिक तारीफ शायरी

इस सादगी पे कौन न मर जाए ऐ ख़ुदा
लड़ते हैं और हाथ में तलवार भी नहीं

Is Saadgi Pe Kaun N Mar Jaaye Ae Khuda
Ladte Hai Aur Hath Me Talwaar Bhi Nhi
____________________________________________

मुझे मालूम नहीं हुश्न की तारीफ ,
मगर मेरी नजर में हसीन वो है जो तुझ जैसा हो ..
____________________________________________
तारीफ शायरी फॉर गर्ल 2 Line

मेरे मिजाज की क्या बात करते हो साहब
कभी-कभी मैं खुद को भी जहर लगती हूं

Mere Mijaj Ki Kya
Baat Karte Ho Saheb
Kabhi-kabhi Main 
Khud Ko Bhi Zahar Lagti Hoon
____________________________________________
Girlfriend ki Tareef Shayari in Hindi

हुआ था शोर पिछली रात को दो चाँद निकले है,
बताओ क्या जरूरत थी तुम्हे छत पर टहलने की.
____________________________________________

आज कुछ और नहीं बस इतना सुनो..
मौसम हसीन है, लेकिन तुम जैसा नहीं..



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ