matlabi dost shayari, status & quotes in hindi | मतलबी दोस्त शायरी

matlabi dost shayari in hindi | मतलबी दोस्त शायरी

matlabi dost shayari in hindi | मतलबी दोस्त शायरी 

Aasaan nahi unhe maaf karna
Jo umeed hame dushman se thi
Wo saari dosto ne puri kar di

आसान नहीं उन्हें माफ़ करना
जो उम्मीद हमें दुश्मन से थी
वो सारी दोस्तों ने पूरी कर दी।
________________________________________
Matlabi log quotes in hindi

Unka matlab hi hona bhi 
Pasand Hai hamen matlab 
Se Hi sahi yad to karte hain 
Hamen..!!
________________________________________

भरोसे की आड़ में उन्होंने मुझे बहुत 
सताया है मतलबी लोगों की तरह
शायद मतलब के लिए उन्होने मुझे 
अपना बनाया है।💯

Bharose👉 Ki aad Mein unhone 
Mujhe bahut sataya Hai matlabi 
Logon Ki tarah Shayad matlab ke 
Liye unhone mujhe Apna banaya 
Hai.!!
________________________________________

Matlabi dost shayari 2 lines in...

जिनको हमने इस दिल में बसा 
रखा था उनका नाम तो मतलबी 
लोगो में आ रखा था।
________________________________________

Agar dost chuno toh unhe
Ek baar parakh jaroor lena
Ek dost hi hai jinke saath hum
Sabse jyada waqt bitaate hai

अगर दोस्त चुनो तो उन्हें
एक बार परख ज़रूर लेना
एक दोस्त ही है जिनके साथ हम
सबसे ज्यादा वक़्त बिताते है। 
________________________________________
‎Matlabi status in hindi

दिलों में मतलब और जुबान से 
प्यार करते हैं बहुत से लोग दुनिया 
में यही कारोबार करते हैं।

Dilon Mein matlab vah juban 
Se #Pyar karte Hain bahut se 
Log Duniya Mein yahi karobar 
Karte Hain..!!
________________________________________
Matlabi dost status

कोई कहता हैं दुनिया प्यार से चलती 
है कोई कहता हैं🌎 दुनिया दोस्ती से 
चलती है लेकिन जब अजमाया तो पता
लगा कि दुनिया तो बस मतलब से चलती है।

Koi kahta Hai Duniya Pyar Se 
Chalti Hai Koi kahta Hai Duniya 
Dosti se Chalti👉 Hai Lekin jab 
Aajmaya to pata Chala Duniya 
To Bus matlab se chalti Hai..!!
________________________________________

Matlabi dost status in hindi

Samajh nahi paye kisamt ka khel
Mujhe pareshaan karne ke liye
Dushman ko dost ka roop de diya

समझ नहीं पाए किस्मत का खेल
मुझे परेशान करने के लिए
दुश्मन को दोस्त का रूप दे दिया। 
________________________________________
Matlabi dost Status

कैसे कह दूँ 🤟इश्क मतलबी है 
उसका उसे मुझसे कोई फायदा 
भी तो नहीं है।💯

Kaise kah dun ishq matlab hai 
Uska use mujhse koi fayda bhi 
To Nahin Hai..!!
________________________________________
मतलबी शायरी दो लाइन

प्यार से अपना कह कर मतलब के 
लिए आती है अपनों के लिबाज़ में 
ये दुनिया जख्म दे जाती है।

Pyar Se Apna kahkar matlab 
Ke Liye🤟 aati hai apnon ki 
Riwaj mein Yah Duniya jakhm 
De jaati Hai..!!
________________________________________

मतलबी दोस्ती शायरी दो लाइन

Khud ko aaine mee 
Kaise dekhte honge wo log
Jo khud dhokebaaz hai aur
Dhokebaazi se nafrat bhi hai

खुद को आईने में 
कैसे देखते होंगे वो लोग
जो खुद धोकेबाज़ है और
धोखेबाजी से नफरत भी है। 
________________________________________
Matlabi Dost Shayari

Kartut toh dekho zara dosto ki
Humse dosti nibhate nibhate 
Wo toh dushmani kar gaye 

करतूत तो देखो ज़रा दोस्तों की
हमसे दोस्ती निभाते निभाते 
वो तो दुश्मनी कर गए। 
________________________________________

Matlabi duniya status in hindi

Abhi toh hamne duniya ko 
Karib se dekhna shuru kiya tha
Par kuch logo ne dagabaazi kar di

अभी तो हमने दुनिया को 
करीब से देखना शुरू किया था
पर कुछ लोगो ने दगाबाजी कर दी। 
________________________________________
मतलबी दोस्त शायरी फोटो

मतलबी दुनिया के मतलबी नज़ारे अपने ही स्वार्थ के
सभी यहां मारे अब विश्वास ना रहा अब किसी के सहारे
इसलिए कहता हूँ इस छोटी सी जिंदगी को बस अकेले गुजरें।

matlabi duniya ke matlabi nazare apne hi swarth
ke sabhi yahan mare ab vishwas na raha ab kisi
ke sahare isliye kahata hun is choti si zindagi ko
bas akele guzare.
________________________________________
मतलब की दोस्ती शायरी

मतलबी दुनिया में लोग खड़े हैं, हातो में पत्थर लेकर
मैं कहां तक भागू शीशे का मुकद्दर लेकर.

matlabi duniya me log khade hai hanto
me pattar lekar me kahan tak bhagun
shishe ka mukaddar lekar.
________________________________________
मतलबी दोस्त को दूर से सलाम

दोस्ती भी कितनी अजीब होती है,
हसाती है तो रुलाती भी है,
बस एक छोटा सा झगड़ा क्या हो जाए,
सारी पुराणी गलतियां याद दिला देती है।
________________________________________

ज़रूरत पड़ने पर हर किसी को अपना बनाते है लोग,
और जब ज़रूरत ना हो तो, उन्ही से पीछा छुड़ाते है लोग।

Zarurat padne par har kisi ko apna banate hai log,
or jab zarurat na ho to, unhi se pichha chhudate hai log.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ